About Me

My Photo
Piyush Tainguriya
View my complete profile

Jun 30, 2008

मैं ताकत हूँ

मैं ताकत हूँ,
ढाई किलो का हाथ हूँ,रिश्ते में तुम्हारा बाप हूँ ,
मैं ताकत हूँ ,
अजूबा हूँ ,दीवार हूँ ,शक्ति हूँ ,सरकार हूँ ,
मैं ताकत हूँ ,
रक्तपात हूँ ,घमासान हूँ ,युद्ध का मैदान हूँ,
मैं ताकत हूँ ,
काम हूँ ,क्रोध हूँ,प्रज्वलित प्रतिशोध हूँ,
मैं ताकत हूँ ,
घमंडी हूँ,चूर हूँ,कुचलता हूँ,मजबूर हूँ,
मैं ताकत हूँ ,
लालच हूँ,व्यापार हूँ,दुनिया की रफ्तार हूँ,
मैं ताकत हूँ ,
सोना हूँ ,तेल हूँ,पैसों का खेल हूँ,
मैं ताकत हूँ ......मैं ताकत हूँ ......मैं ताकत हूँ ......

The Me

Like rollin stones,like flyin' kites,
I leap n bound,at dizzyin' heights.
A shipwrecked sailor,a rovin' gypsy,
Livin on the waves,drunk and tipsy.
Velvety heart,in an iron glove,
Skin of the vulture,over the dove.
A heartless beast,to the sole of the boot,
Heart crushed,pulverized converted to soot.
Searchin equilibrium in an unstable system,
Angry at myself,furious at someone.
Livin on the edge,though i love my bliss,
Cant live in the valley,coz i love my cliff!